5 टिप्स : IIJS पर अपनी खरीद को बेहतर और अधिकतम करने के 5 बेहतर तरीके IIJS में क्या करें

इंडिया इंटरनेशनल ज्वेलरी शो- मुंबई, जिसे IIJS के नाम से जाना जाता है, 10 फरवरी से 13 फरवरी  को सुबह 10 बजे से संध्या 7 बजे तक, आयोजित की जा रही है!

यह देश में अब तक का सबसे बड़ा और सबसे लोकप्रिय आभूषण कार्यक्रम है।

gjiie 2018 chennai
यह शो कितना बडा है?

1200 से अधिक मैन्युफैक्चरर, 2000 से भी ज्यादा स्टाल IIJS शो रिटेल विक्रेता को चुनौती देते हैं की रिटेल विक्रेता कम कीमत पर बेहतर और अच्छा खरीदना चाहते हैं।IIJS शो में, रिटेल विक्रेता पहले दिन सोने के स्टाल में जाना पसंद करते हैं और अगले दिन हीरे के स्टाल में जाते हैं।

IIJS के अधिक से अधिक लोकप्रिय होने के साथ, ज्यादा से ज्यादा मैन्युफैक्चरर अपना स्टाल को IIJS में लगाना करना चाहते हैं और ज्यादा से ज्यादा रिटेल विक्रेता IIJS शो में आना चाहते हैं। इसलिए, आयोजकों ने IIJS में दिन की संख्या और स्टाल की संख्या दोनों का विस्तार करके अच्छा किया है। फिर भी, भारत भर के कई रिटेल विक्रेता और 80 से ज्यादा अन्य देशों के रिटेल विक्रेता IIJS शो को भरे रहते हैं, वो सुबह से लेकर रात तक स्टाल में जाते हैं और शाम तक सभी खरीदारी करते हैं और इस भागम दौड़ में थक जाते हैं।

इसलिए हम ये 5 टिप्स लाये हैं रिटेलर्स के लिए जो IIJS में आपकी मदद करेगा की क्या आपको यहाँ खरीदना चाहिए या क्या नहीं, इसके बारे में विस्तार से विवरण निचे दिया गया है!

  You want to read this article in English Click Here

रिटेल विक्रेता को IIJS शो में अपना कीमती समय को बेहतर खरीददारी करने के लिए 5 टिप्स।

1.    आपका ड्रेस : आरामदायक कपड़े और जूते पहनें। आर्द्रता, बारिश और भीड़ के कारण IIJS में समय व्यतीत करना आपके लिए थोडा मुश्किल हो सकता है। मुंबई में फरवरी के समय लिए सबसे आरामदायक कपास/सूती के कपड़े सबसे अच्छे होते हैं। इसी तरह, सभी रिटेल विक्रेता पूरे दिन खड़े नहीं रह सकते हैं और न ही पुरे दिन एक स्टाल से दुसरे स्टाल में टहल सकते हैं, यह पूरा 2 दिन के लिए स्टाल से स्टाल तक चलते रहना काफी थकाऊ हो जाता है! तो, सो अपने नियमित जूते पहनने के बजाय, “आरामदायक जूते” पहनें।

2.    IIJS में कैसे शुरू करें: रिटेल विक्रेता अपने शहर के स्टोर में सामान्यत: 11 से 12 बजे के दरम्यान आते हैं, लेकिन ये मुंबई है और मुंबई का यातायात साधन और मौसम का कोई भरोसा नहीं  है, और तब खासकर अगर आप मुंबई से नहीं हैं आप परेशां हो सकते हैं। IIJS प्रदर्शनी के लिए मैप। यहां तक कि एक उबर और ओला भी होटल में पहुंचाने के लिए काफी समय ले सकता है। IIJS शो में आने के लिए एंट्री जल्दी शुरू हो जाती है, और इसलिए बेहतर ये है की आप सुबह 9 बजे ही लाइन में लग जाएँ, सो आपको अन्दर में खरीददारी के लिए अधिकतम समय प्राप्त मिल सकेगा!

3.    अपने वेंडर से अपॉइंटमेंट फिक्स कर लें : पहले ये नोट कर लें कि आप कौन से स्टाल को पहले से देखना चाहते हैं, खासकर वैसे स्टाल जहाँ आप नियमित खरीददार हैं। एक अपॉइंटमेंट फिक्स करें और उनके पास जाएं। इससे आपके विक्रेताओं को भी आपके आने की उम्मीद होगी, इसलिए आपको “टेबल” के फ्री होने की प्रतीक्षा नहीं करना पड़ेगा!

want to increase stock rotation

4.    टाइम टेबल/समय सारणी: एक स्टाल से दुसरे स्टाल तक जाने के लिए एक समय सारणी और मार्ग योजना बनाएं, ताकि आप IIJS शो के एक कोने से दूसरे कोने में जाने में अपना कीमती समय न खोएं।

5.    नए प्रोडक्ट: अपने स्टोर में जो नए प्रोडक्ट/डिजाईन को जोड़ना चाहते हैं, उन्हें पहचानने के लिए कुछ विशिष्ट समय रखें, और इस बारे में एक योजनाजरुरी है की प्रत्येक श्रेणी में कितने प्रोडक्ट स्टोर करना चाहते हैं!

और साथ में एक बोनस के तौर पर IIJS के सेमिनार में भाग लें !

1.    बोनस एक कार्यशाला(वर्कशॉप) में भाग लें: IIJS द्वारा कई सेमिनार आयोजित किए जाते हैं पहली मंजिल पर सेमिनार हॉल में, जहां प्रमुख रिटेल विक्रेता और विशेषज्ञ अपने विचार साझा करते हैं। अपनी IIJS विजिट के दौरान कम से कम एक ऐसे सेमिनार की पहचान करें और भाग लेने के लिए समय निकालें।

एक दिवसीय वर्कशॉप में भाग लें

रिटेल गुरु श्री शिवराम के द्वारा आयोजित बगैर अतिरिक्त भुगतान के ज्यादा धंधा कैसे करें! ये वर्क शॉप में भाग लें यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *